Saturday, January 10, 2015

लाख कोशिशो के बाद...

लाख कोशिशो के बाद हम मिल नही पाए , तुमने कहा था दोगी मेरा साथ, अपने हाथो में रखकर मेरा हाथ, दोहराती थी तुम हर बात पर ये बात लेकिन, लाख कोशिशो के बाद हम मिल नही पाए । गुटरगू करते मोहब्बत का मज़ा भी खूब लिया, कभी चोकलेट तो कभी टीशर्ट गिफ्ट दिया , मैंने भी तुझको पाने के लिए 2 और 2 एक किया , लेकिन लाख कोशिशो के बाद हम मिल नही पाए । कभी मोटरसाइकिल पर तो कभी कार में घुमाया, कभी डिजनीलैंड तो कभी तुझको मैंने पीके भी दिखाया , बात -बात पर तेरे नखरे को सर पर बिठाया लेकिन, लाख कोशिशो के बाद हम मिल नही पाए । अपने कोशिशो को देख तो मेरे आंख भर आये , लाख रूपये तो तेरे घरवालो को खुश करने में उडाये , तेरे मोहब्बत के खातिर हम आज भी कुर्बान हो जाये लेकिन , लाख कोशिशो के बाद हम मिल नही पाए । -ऋषि राज े